आजादी और शांति: कुसुम डाँगी


आजादी एक ऐसी स्थिति है, जिसमें लोगों  को बाहरी प्रतिबंधों के बिना बोलने, करने और अपने सुख को प्राप्त करने का अवसर मिलता हैं। आजादी हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं क्योंकि उससे हमें अपने नए विचार, रचनात्मक कला, उत्पादन और जीवन की गुणवत्ता को बढ़ाने का मौका मिलता हैं। इससें व्यक्ति अपनी  इच्छानुसार कोई भी कार्य कर सकता हैं, जिससें वो अपना मन लगाकर करेगा क्योंकि अगर किसी पर भी कोई कार्य थोंपा जाएगा तो आगे वाला उसे बोझ समझ कर करेगा जिससें वह कार्य सफल नहीं हो पाएगा

शांति  का अर्थ है, मन की स्थिरता। जब तक मन की चंचलता है, तब तक मन अशांत रहता हैं।
हमें एक-दूसरे के साथ अच्छा व्यवहार रखना चाहिए तभी शांति बनी रहेगी

आजादी और शांति एक-दूसरे से संबंधित है। अगर हमें आजादी मिलेगी, तभी हम अपने मन से कार्य कर पाएँगे और जब मन से कार्य होगा तो व्यक्ति खुश रहेगा और मन खुश रहेगा तो शांति बनी रहेगी

"जब तुम्हारा मन टूटने लगे तब भी यह आशा रखो कि प्रकाश की कोई किरण कही ना कही उदय होगी"
Kusum Dangi
The Fabindia School, Bali

No comments:

Post a Comment

Good Schools of India Journal @ www.GSI.IN

Blog Archive

Visitors